Sunday, August 1, 2010

नेत्रदान - एक राष्ट्रीय आवश्यकता

विभिन्न भाषाओं में जानकारी देने हेतु आज मैं हिन्दी में जानकारी पोस्ट कर रहा हूँ .
--------------------------------- ------------------------------------------
नेत्रदान - एक राष्ट्रीय आवश्यकता
भारत मे करीब 1.25 करोड लोग दॄष्टिहीन है, जिसमे से करीब 30 लाख व्यक्ति नेत्ररोपण द्वारा दॄष्टि पा सकते हैं। सारे दॄष्टिहीन नेत्ररोपण द्वारा दॄष्टि नहीं पा सकते क्योंकि इसके लिये पुतलियों के अलावा नेत्र सबंधित तंतुओं का स्वस्थ होना जरुरी है। पुतलियां तभी किसी दॄष्टिहीन को लगायी जा सकती है जबकि कोई इन्हे दान में दे। नेत्रदान केवल मॄत्यु के बाद ही किया जा सकता है।
देश की इतनी अधिक जनसंख्या को देखते हुए 30 लाख नेत्रदान हो पाना आसान लगता हो परन्तु ऎसा नही है। तथ्य कुछ अलगही है, आइए इन्हे जानने की कोशिश कीजिये -
प्रति वर्ष 80 लाख मॄतको में सिर्फ़ 15 हज़ार ही नेत्रदान हो पाते हैं। क्या यह शोचनीय नही है? इससे भी अधिक दुर्भाग्यपूर्ण और शर्मिन्दा करने वाला तथ्य यह है कि बडी मात्रा में दान किये हुए नेत्र श्रीलंका से आते है। यह छोटासा देश, न सिर्फ़ हमें बल्कि अन्य देशों को भी दान में मिले नेत्र प्रदान करता है।
क्या यह करोडो भारतियों के लिए शर्म की बात नहीं है? जब कि हम अलग अलग क्षेत्रों में स्वावलम्बन प्राप्त कर चुके है या स्वावलम्बन प्राप्त करने का प्रयास कर रहे है तब क्यों न नेत्रदान के क्षेत्र में भी स्वावलम्बन प्राप्त् करें ?
कार्नियल प्रति रोपण के माध्यम से कार्नियल ब्लाइंड व्यक्ति को दॄष्टि दे पाना पिछले 40-50 वर्षों से वैज्ञानिक तकनीकी द्वारा संभव होने के बावजूद हम उसके उपयोग में पीछे क्यौं हैं ? आइये हम न सिर्फ़ नेत्रदान करें बल्कि उसका प्रचार भी करें और दुसरों को नेत्रदान के लिये प्रेरित करें।
नेत्रदान बहुत आसान है, रक्तदान से भी आसान ! नेत्रदान से जुडे कुछ तथ्य निम्न प्रकार हैं------
1. नेत्रदान के लिये उम्र एवं धर्म का कोई बन्धन नही हैं।चश्मा पहननेवाले या जिनका मोतीयाबिंद का आपरेशन हो चुका हो ऐसे व्यक्ति भी नेत्रदान कर सकते हैं।
2. केवल वही व्यक्ति जो एड्स, पीलिया या पुतलियों संबधीं रोगो से पीडित हो वह नेत्रदान नही कर सकते। परंतु इन सबका फ़ैसला नेत्र विशेषज्ञ द्वारा ही लिया जाना चाहिये क्यौंकि ऎसे नेत्र अनुसंधान के काम में आ सकते हैं।
3. किसी दुर्घटना में यदि पुतलियां ठीक हो तो मुंबई जैसे शहर में कारोनर या पुलिस की अनुमति से नेत्रदान जरुर किया जा सकता है।
4. नेत्रदान मॄत्यु के बाद 3 या 4 घंटे के अन्दर होना चाहिए। असाधारण परिस्थिति में 6 घंटे तक नेत्रदान हो सकता है।
5. नेत्रदान में समय सीमा का बहुत महत्व है, अतः नेत्रदान की इच्छा अपनी वसीयत में ना लिखे क्यौंकि वसीयत अक्सर मॄत्यु के कई दिनों या महिनों बाद भी खोली जाती है।
6. नेत्रदान की इच्छा व्यक्त करने का बेहतर तरीका यह है कि अपने घर के करीबी नेत्र बैंक का शपथ पत्र भरें। रिश्तेदार एंव मित्र, जिन्होनें आपके शपथ पत्र पर साक्षीदार के रूप में हस्ताक्षर किये हों, आपकी भावना समझ सकते हैं। इसके लिये आप अपने रिश्तेदार,मित्रों एंव पडोसियों से अपनी इच्छा की चर्चा कर सकते हैं। इससे आपकी इच्छा पूरी होने की संभावना बढ़ जाती है एंव सामाजिक जागरुकता भी आती है।
7. शपथ पत्र भरने के बाद आपको एक कार्ड भी दिया जायेगा जिसमें आपका रजिस्ट्रेशन क्रमांक अंकित होगा। इस कार्ड को आप सदा अपने साथ रखें। यात्रा के समय भी!
8. नेत्रदान के लिये यह जरूरी नही है कि मॄतक ने ही कोई इच्छा की हो या शपथ पत्र दिया हो । संबधियों की इच्छा पर भी नेत्र बैंक के विशेषज्ञ को बुलाकर नेत्रदान किया जा सकता है।
9. नेत्र बैंक के टेलिफोन नं. अपने घर एंव ओफिस में रखें, दीवारों पर प्रदर्शित करें।
10. मृत्यु के पश्चात् तुरंत ही नेत्र बैंक को सूचित करना अत्यावश्यक है। इसे कोई भी रिश्तेदार, मित्र या पडोसी सूचित कर सकते है एंव इसके लिये उसी नेत्र बैंक को सूचित करना जरूरी नही है जिसका शपथपत्र मॄतक ने भरा हो। समय की आवश्यकता के कारण सबसे करीबी नेत्र बैंक को सूचित करें।
11. आप से अनुरोध है कि उपरोक्त बातों को याद रखें। साथ ही सभी को नेत्र दान के लिये प्रेरित करें।
12. मॄतक का मृत्यु प्रमाण पत्र तैयार रखें और प्रमाण पत्र देने वाले डाक्टर को 10 सीसी ब्लड सैंपल लेने के लिये सूचित करें।
13. मॄतक की आंखों में आई ड्राप्स डालें। मॄतक की पल्कों को बन्द कर दे एंव उनके उपर भीगी रूई या कपडा रख दें।
14. कमरें में पंखे बन्द कर दें। यदि एअर कंडिशनर हो तो उसे चालू रखें। भारी लाईट ना रखें।
15. मॄतक का सिर करीब 6 इंच ऊपर, दो तकियों पर रखें।
सूचना मिलते ही नेत्र विशेषज्ञ मॄतक के घर जाकर नेत्र लेते है। इस प्रक्रिया में मात्र 20 मिनिट लगते है। इसके बाद आखों में रूई रखकर पुतली को ठीक से बंद कर देते है। जिससे मॄतक का चेहरा विद्रूप नहीं होता है।नेत्रों को या सिर्फ़ पुतलियों को शरीर से निकाल कर विशेष बर्तन (फ़्लास्क) में रखकर आई (नेत्र ) बैंक में लाया जाता है और कुछ प्रक्रिया के बाद उन्हें दॄष्टिहीनों को प्राथमिकता के अनुसार लगाया जाता है ये नेत्र दो से छः दॄष्टिहीन व्यक्तियों को ज्योति प्रदान कर सकते हैं। जिससे ना सिर्फ उनका जीवन बदल देता है अपितु उनके जीवन को हमेशा के लिये अंधेरे के अभिशाप से बाहर निकाल देते हैं।यह सब हम जरूर कर सकते हैं। समाज के लिये हम जीवित अवस्था में कुछ काम ना कर सकें, अपितु म्रुत्यु के पश्चात तो कर सकते हैं, समाज का ऋण चुका सकते हैं। आपसे निवेदन है कि आप नेत्रदान के लिये आगे आयें, आज यह हमारी राष्ट्रीय आवश्यकता बन गयी है। इस लेख को पढकर यदि आप नेत्रदान करने के लिये उत्सुक हो या आपको किसी प्रकार का कोई संदेह हो या किसी प्रकार की सहायता करना चाहते हों या आपके पास कोई सुझाव हो तो और पोस्टर प्रदर्शनी या व्याख्यानों के लिये संपर्क कर सकते हैं। आपसे अनुरोध है कि नेत्रदान के प्रचार के लिये इस संदेश का अधिक से अधिक प्रसार करें। साथ ही नेत्रदान अभियानो में अपना सहयोग दें, इसी आशा के साथ आप सभी को धन्यवाद।

श्री वि. आगाशे . सी-54, अशोक कल्प/रश्मी काम्प्लेक्स, मेंटल हास्पीटल रोड, ठाणे(पश्चिम)-400604
दूरभाष क्रमांक – 022-25805800 (सायं 6 बजे के बाद) मोबाईल - 9969166607
e mail : shreepad.agashe@gmail.com blog : www.netradaan.blogspot.com

14 comments:

  1. I AM CHANDRASHEKHAR KHARE AN M.Sc. STUDENT OF INDIRA GANDHI AGRICULTURAL UNIVERSITY KRISHAK NAGAR RAIPUR (C.G.) IM INTERESSTED TO EYE DONET WORKING IN MY SOCIETY AND I KHOLEDGE IN MANT PATIENT TO NEEDY IN EYE AND IM ALSO KHNOLEGDGED IN DONER SO LPEASE ALL INFORM ME IN MY ADDRESS FOR TERM AND CONDITION OF DONER AND RECIEVER OF EYE IN NEEDY IN OUR SOCIETY IN C.G.

    ReplyDelete
  2. I AM CHANDRASHEKHAR KHARE AN M.Sc. STUDENT OF INDIRA GANDHI AGRICULTURAL UNIVERSITY KRISHAK NAGAR RAIPUR (C.G.) IM INTERESSTED TO EYE DONET WORKING IN MY SOCIETY AND I KHOLEDGE IN MANY PATIENT TO NEEDY IN EYE AND IM ALSO KHNOLEGDGED IN DONER SO LPEASE ALL INFORM ME IN MY ADDRESS FOR TERM AND CONDITION OF DONER AND RECIEVER OF EYE IN NEEDY IN OUR SOCIETY IN C.G.

    ReplyDelete
  3. JAI HIND
    CHANDRASHEKHAR KHARE
    KYA AAP MARNE K BAAD DUNIA DEKHNA CHAHTE HAI ? YADI MAIN AAPSE YAH PRASN KAROONGA TO AAP KAHENGE KI KYA PAGALPAN JAISI BAAT KAR RAHA HU. YAH KAISE SAMBHAV HAI ? VYAKTI KI ATMA MARNE K BAAD USKE SHARIR KO CHHODKAR CHALI JATI HAI AUR MAIN DUNIA DEKHNE KI BAAT KAR RAHA HU.

    KYA AAP NAHI CHAHTE HAI KI MARNE K BAAD BHI AAPKE PARIJAN CHAHE VAH AAPKE MATA PITA HO YA PATI/PATNI YA BHAI BAHAN, AAPKO DEKHE.

    YADI AAP MARNE K BAAD BHI DUNIA DEKHNA CHAHTE HAI YA AAP CHAHTE HAI KI AAPKE PARIJAN AAPKO DEKHE, TO AAP NETRADAN KIJIYE.


    NETRADAN MAHADAN

    JI HAAN, NETRA DAN K DWARA AAP DUNIA DEKH SAKTE HAI. JIS VYAKTI KO AAPKI AANKHE LAGAI JAYEGI UN AANKHO KO DEKHKAR AAPKE PARIJAN AAPKA AHSAAS KARKE
    GOURVANVIT HO SAKTE HAI.

    TO FIR DER KYO ? AAJ HI APNE NIKAT K HOSPITAL ME NETRADAN KI JAANKARI PRAPT KARKE EYE BANK ME NETRADAN KA FORM BHAR DEVE.

    EYE BANK

    EYE BANK ME MRAT VYAKTI K SHARIR SE CORNEA KO NIKALKAR LAGBHAG 2 MAH TAK SURAKSHIT RAKHA JA SAKTA HAI. ANYA STHHANO PAR CORNEA KO SURAKSHIT RAKHNE KA PERIOD ALAG ALAG HAI. YADI NETRA DAN AISE STHAN PAR KIYA JA RAHA HO, JAHA PAR KI EYE BANK YA ACHHA HOSPITAL NAHI HAI , TAB AISI STHHITI ME 6 GHANTE K BHITAR NETRA DAN KI PRAKRIYA PURN HO JANA CHAHIYE. ISKE BAAD CORNEA K TISSUE KHARAB HONE LAGTE HAI.

    MARNE K BAAD MRATAK KI PALKE YADI KHULI HO TO TATKAL PURI TARHA BAND KAR DENA CHAHIYE. KHULI AANKHO SE INFECTION KA KHATRA RAHTA HAI.

    NETRA DAN K SAMBANDH ME BHRANTIYA

    NETRA DAN K SAMBANDH ME LOGO ME BHRANTIYA HAI KI NETRA DAN KARNE SE MRATAK KA CHEHRA VIKRAT HO JATA HAI. ISS KARAN SE VE MRATAK KA NETRA DAN NAHI KARNE DETE HAI.

    JABKI TATHHYA YAH HAI KI NETRA DAN KARNE WALE VYAKTI KI MRATU K TATKAL BAAD USKI AANKH SE MATRA CORNEA HI NIKALA JATA HAI AUR ISS NIKALE GAYE CORNEA KO ANDHATV WALE VYAKTI KO TRANSPLANT KIYA JATA HAI.

    NETRADAN ME AANKH KA PURA GOLA KABHI NAHI BADLA JATA HAI ISS LIYE NETRA DAN KA SANKALP LENE WALE K PARIJANO KO CHAHIYE KI VE USS SANKALP KA SAMMAN KARKE AVM MRATAK KI ICHHA PURI KARNE K LIYE NETRA DAN ME SAHYOG DEVE. EK VYAKTI K NETRA DAN SE 2 NETRA VIHIN VYAKTIYO KI AANKHO KO ROSHNI MIL SAKTI HAI.

    INN 2 VYAKTIYO KO LAGAI GAIEE AANKHO SE AAP MARNE K BAAD BHI DUNIA DEKH SAKENGE YA NAHI ? YA AAPKE PARIJAN INN ANKHO ME AAPKO DHUNDHENGE YA NAHI ?

    NETRA DAN KARNE ME JAGROOKTA

    AAJ NETRA DAN KARNE ME JAGROOKTA KI KAMI HAI ISSI KARAN DAN ME MILNE WALE CORNEA KI SANKHYA MARNE WALO KI APEKSHA BAHUT HI KUM HAI. JO LOG NETRA DAN K BAARE ME ACHHI KHASI JANKARI RAKHTE HAI, VE BHI NETRA DAN NAHI KARNA CHAHTE HAI. HAME YAH SONCH BADALNA HOGI. KHUD BHI NETRA DAN KARE AUR APNE MITRO-SAMBANDHIYO KO BHI NETRADAN KARNE K LIYE PRERIT KARE.

    HAMARE DESH ME KUL JANSANKHYA KI LAGBHAG 1% AABADI KISI NA KISI KARAN SE ANDHATV KI CHAPET ME HAI.

    NETRADAN KISKA NAHI HO SAKTA HAI ?

    BAHUT KUM YA ADHIK UMRA K VYAKTI KA
    CENCER SE MARNE WALE VYAKTI KA.
    DOOBKAR MARNE WALE VYAKTI KA.
    JALNE K KARAN MRAT HUEE VYAKTI KA
    KISI BHI PRAKAR K JAHAR SE MARNE WALE VYAKTI KA
    HEPETISE B SE MARNE WALE MARIJ KA
    HIV (AIDS) SE MARNE WALE VYAKTI KA
    JINKI OPTICAL NARV AUR AANKH KA PARDA KHARAB HO.

    NETRADAN K LIYE AAVASHYAK

    NETRADAN K LIYE AAVASHYAK HAI KI MRATAK KI TATKAL PALAKE BAND KAR DEVE AVM DOCTOR KO FOURAN BULVA LEVE. JAB TAK DOCTOR NAHI AA JAVE TAB TAK MRATAK KI AANKHO PAR GILA RUIE KA FOHA RAKHE RAHE.

    HAAN TO AAP BHI ISS MAHAYAGYA ME BHAG LEKAR APNI NETRA KA DAN KARNE K LIYE FORM BHARNE JA RAHE HAI NA ?

    CHANDRASHEKHAR KHARE AN M.Sc. STUDENT OF INDIRA GANDHI AGRICULTURAL UNIVERSITY KRISHAK NAGAR RAIPUR (C.G.)

    ReplyDelete
  4. JAI HIND
    ANKHE HAI JIWAN JYOTI ISE SADA JALAYE RAKHE BUJHNE N DE IS DIYE KO JO SAMAJ-DESH KO IENA DIKHAYE RAHE MAR-KAR BHI AMAR KAR DE JISKO O HAI NETRADAN KARE MAHAN***
    CHANDRASHEKHAR KHARE AN M.Sc. STUDENT OF INDIRA GANDHI AGRICULTURAL UNIVERSITY KRISHAK NAGAR RAIPUR (C.G.)

    ReplyDelete
  5. Plz donate the EYES.....

    jivan kiti kal jagale yala arth nasto tar kase jagle yala jast mahatw aste.

    sagar kolhe
    nashik

    ReplyDelete
  6. Thanks a lot Shri. Khare and Shri. Kolhe
    Warm regards and all the best wishes to you,
    -SV Agashe

    ReplyDelete
  7. तपाईं एक ऋण चाहिन्छ? म कम लागत संग ऋण प्रस्ताव एक साँचो ऋण ऋणदाता हुँ। तपाईं रुचि हो भने अब लागू हुन्छ। morriswilsonloanoffer@gmail.com

    ReplyDelete
  8. म मसीही Sander गरेको छु र म Jeanne जेवियर्स वित्त घर क्यानाडा संग काम। लागि हामीले व्यक्तिहरूले, कम्पनीहरु, शरीर सह-सञ्चालन निजी गर्न ऋण प्रदान, हामी व्यवसाय सुरु माथि र व्यापार विस्तार, रूप सानो 15 रूप दिनहरुमा, अनुदान आफ्नो अचल सम्पत्ति विकास व्यापार बढ्न खोजिरहेको तपाईं चाहेको ऋणदाता माथि टीम लामो रन। हाम्रो उधारो सेवाहरू एकल र बहु-परिवार घर साथै नयाँ निर्माण गर्न विस्तार, हाम्रो लक्ष्य चाँडै र कुशलतापूर्वक अचल सम्पत्ति लगानीकर्ताले, र व्यापार पुरुष र महिला मदत आफ्नो व्यापार गतिविधिहरु वित्त छ। सम्पत्ति र उधारकर्ता क्रेडिट दुवै मा लचीलापन। हामी 2% ब्याज दर मा ऋण प्रदान। ऋण संग थप जानकारीको लागि jeannexavier111@gmail.com: त्यसैले मलाई मेल।

    ReplyDelete
  9. नमस्ते।
    म जीवन समय दिनुहुने एक निजी ऋण ऋणदाता श्री Rahel Cohran हुँ
    आदि व्यक्तिहरूलाई मौका ऋण, व्यापार कम्पनीहरु, बीमा, छ
    तपाईं कुनै पनि वित्तीय कठिनाई वा ऋण खाँचो लगानी वा तपाईं
    बनाउन कुनै थप हामी यहाँ आफ्नो बिल खोज तिर्न एक ऋण आवश्यक
    सबै आफ्नो वित्तीय समस्या विगत एक कुरा। हामी सबै प्रकारका प्रदान
    Upfront शुल्क बिना 2% को दर संग कुनै पनि मुद्रा मूल्यवर्ग मा ऋण।
    म तपाईं हामी गर्न तयार हुनुहुन्छ भनेर थाहा दिनु यो ठूलो मध्यम प्रयोग गर्न चाहनुहुन्छ
    आफ्नो आर्थिक समस्या भनेर समाधान गर्न ऋण को कुनै पनि प्रकारको संग तपाईंलाई सहयोग।
    हो त E-rahelcohranloan@gmail.com मार्फत अब फिर्ता प्राप्त भने
    अधिक विवरण लागि, तपाईं अत्यधिक स्वागत

    ReplyDelete
  10. Sir moje eye Ki jarurat h m .Mathura.up se hu mera mob number.9045158456 h plz help me sir

    ReplyDelete
  11. IM interessted eye donet.my contact no.8894188348

    ReplyDelete
  12. नमस्कार, म एडम्स यूहन्ना, म ऋण को आवश्यकता हो कि ती ऋण बाहिर दिन एक निजी ऋण ऋणदाता हुँ, र नयाँ business.I सुरु गर्न चाहनुहुन्छ कि ती व्यक्तिगत ऋण, व्यापार ऋण, विद्यार्थी ऋण, कम्पनी ऋण र सबै बाहिर दिन 2% सम्पर्क आज को चासो दर मा ऋण को प्रकार,: adamsjohnloanfirm@hotmail.com

    ReplyDelete
  13. respected sir
    i read your blog is very good, but one thing i share with u all the Eye Donation is in between 5 to 6 hr after death not 3 to 4hr
    thank you

    ReplyDelete
  14. I am arya Samaji I want to donate my eyes my every organ or tissue to other after I died I am from Jammu and Kashmir state my email address is vivek.sagar22@gmail.com plz tell whom and where I can approach for right organisation or person plz reply me anytime

    Thank you

    ReplyDelete